Directorate of Public Education, Madhya Pradesh Reopan Verification of documents from 1st of april 2021 Qualify Higher Secondary Teacher and Secondary Teacher Eligibility Test | उम्मीदवारों के दस्तावेज का सत्यापन 1 अप्रैल से फिर शुरू होगा, लॉकडाउन चलते 4 जुलाई 2020 से कर दिया था स्थगित

0
59

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Directorate Of Public Education, Madhya Pradesh Reopan Verification Of Documents From 1st Of April 2021 Qualify Higher Secondary Teacher And Secondary Teacher Eligibility Test

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भोपाल14 घंटे पहलेलेखक: अनूप दुबे

  • कॉपी लिंक
लोक शिक्षण संचालनालय ने सोमवार को इसके आदेश जारी कर दिए। - प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar

लोक शिक्षण संचालनालय ने सोमवार को इसके आदेश जारी कर दिए। – प्रतीकात्मक फोटो

  • प्रदेश में शिक्षकों के 30 हजार पद भरे जाने हैं

मध्य प्रदेश में शिक्षक भर्ती परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों के लिए एक अच्छी खबर है। करीब 15 महीने से ज्वाइनिंग की राह देख रहे उम्मीदवारों के दस्तावेजों का सत्यापन 1 अप्रैल से फिर शुरू होगा। स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार के निर्देश पर में लोक शिक्षण संचालनालय ने सोमवार को इसके आदेश जारी कर दिए।

उच्च माध्यमिक शिक्षक एवं माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा की चयन सूची/प्रतीक्षा सूची जारी की गई थी, लेकिन 4 जुलाई 2020 में सत्यापन कार्यक्रम को स्थगित किया गया था। परमार ने बताया कि उच्च माध्यमिक शिक्षक 1 अप्रैल और माध्यमिक शिक्षक के 15 अप्रैल से होगा। वर्तमान में 30 हजार से ज्यादा शिक्षकों के पद भरे जाने हैं।

इस तरह होगा सत्यापन

पदनाम दिनांक
उच्च माध्यमिक शिक्षक

1, 3, 5 अप्रैल 2021

8, 9, 10 अप्रैल 2021

माध्यमिक शिक्षक

15, 16, 17 अप्रैल 2021

22, 23, 24 अप्रैल 2021

15 हजार पदों के लिए 1 जुलाई को शुरू हुई थी प्रक्रिया

लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती के 15 हजार पदों के लिए 1 जुलाई 2020 से सत्यापन प्रक्रिया शुरू की थी, लेकिन परिवहन की समस्या बताकर इस प्रक्रिया को तीन दिन बाद ही रोक दिया गया। आदिम जाति कल्याण विभाग ने भी उच्च माध्यमिक शिक्षक 2220 का पूरा शेड्यूल जारी कर दिया था, लेकिन यह प्रक्रिया भी रोक दी गई। इसके चलते उम्मीदवारों ने प्रदेश भर के कलेक्टर कार्यालय में जाकर भर्ती प्रक्रिया शुरू कराने का अभियान चला रखा है।

सोशल मीडिया पर चला कैंपेन
उम्मीदवारों ने सोशल मीडिया पर #GiveMPTETjoiningOrAllowToDie हैशटैग के साथ लाखों ट्वीट कर CM शिवराज सिंह चौहान तक अपनी मांग पहुंचाने की कोशिश भी की। कोरोना संक्रमण के प्रोटोकॉल का पालन कर उनसे मिलने की कोशिश भी की गई, लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा।

सितंबर 2018 में भर्ती का नोटिफिकेशन हो चुका
शिक्षक भर्ती के लिए चयनित उम्मीदवारों ने बताया कि सितंबर 2018 में भर्ती का नोटिफिकेशन जारी हो चुका है। परीक्षा समय पर नहीं हुई, तो उम्मीदवारों ने धरना प्रदर्शन किए। इसके बाद करीब 6 महीने बाद फरवरी-मार्च 2019 में प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) ने पात्रता परीक्षा कराई। इसके बाद लोकसभा चुनाव का बहाना बनाकर 6 महीने तक रिजल्ट अटका कर रखा। उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट 28 अगस्त 2019 को आया और माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट 26 अक्टूबर 2019 को आया। अब रिजल्ट आए हुए 1 साल से ज्यादा हो चुका है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here